नूडल्स और सॉफ्ट ड्रिंक के शौक ने इस बच्चें का किया ये हाल

फ़ास्ट फ़ूड खाने का किसको शौक नहीं है, बस कोई बहाना होना चाहिए। ये बात सबको पता है की फ़ास्ट फ़ूड हमारी सेहत के लिए कितना नुकसानदायक है। फिर भी हम उसको अवॉइड नहीं कर सकते है, क्योंकि हम उन चीज़ों को ज़्यादा अहमियत देते है जो हमें नुकसान पहुंचती है। ऐसे ही एक बच्चे के साथ हुआ.

जहां नूडल्स और कोला का ज्यादा सेवन करने से एक 10 साल के बच्चे का वजन 200 किलो हो गया। तेजी से वजन बढ़ने के कारण बच्चे की सर्जरी करानी पड़ी, हालांकि अन्य बच्चों के मुक़ाबले अभी भी उस बच्चे का वजन उम्र से कहीं ज्यादा है।

दरसल, इंडोनेशिया के रहने वाले 10 साल के आर्य मोसंत्री को खाने में नूडल्स, चावल और मछली ज्यादा पसंद थे। आर्य के माता-पिता पेशे से किसान हैं। उनका कहना है कि दिन भर खाते रहने के बावजूद आर्य मोसंत्री की भूख नहीं मिटती है। परिजन आर्य को डॉक्टर के पास ले गए, जहां डॉक्टर्स ने सलाह दी कि वो नूडल्स और मछ्ली, चावल का सेवन छोड़ दे। डॉक्टरों ने आर्य को कई स्वास्थ्य वर्धन दवाइयां दी, लेकिन फिर भी बच्चे के वजन में कोई बदलाव नहीं हुआ।

आखिर में डॉक्टरों ने आर्य मोसंत्री की सर्जरी की। सर्जरी के बाद भी आर्य का वजन 16 किलो ही कम हो सका। वहीं डॉक्टरों का दावा है कि सर्जरी कर आर्य के पेट का आकार करीब 85 फीसदी तक कम कर दिया गया है। आर्य की मां रकैया कहती हैं कि नाप के कपड़े नहीं मिलने की वजह से उनका बेटा स्कूल नहीं जा पा रहा है। वह घर के एक बाथटब में बैठा रहता है। उसके नाप के कपड़े भी नहीं हैं।