PM मोदी ने अनुपम खेर को दिया बड़ा तोहफा, बन गए यहाँ के प्रमुख

भाजपा के साथ तमाम मुद्दों पर साथ खड़े अभिनेता और नेता अनुपम खेर को समय-समय पर मोदी सरकार तो सम्मानित करती रही है। आपको बता दें की उन्हें 2004 में पद्मश्री और 2016 में पद्म भूषण का सम्मान से नवाजा गया था। लेकिन इस बार मोदी सरकार ने इन्हे कोई सम्मान नहीं दिया है बल्कि एक ऐसे संस्थान का प्रमुख बना दिया है जिसके चलते पिछले दिनों बहुत बड़ा बबल हुआ था। गौरतलब है की जिस संस्थान का प्रमुख इन्हे बनाया गया है वो पहले गजेंद्र चौहान के जिम्मे था और उनके कुछ कड़े फैसलों की बजह से जमकर बबाल हुआ था।

आपको बता दें की फिल्म एंड टीवी इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (FTII) पुणे के चेयरमैन गजेंद्र चौहान का कार्यकाल खत्म हो गया है और अब आज इस पद के लिए नए चेयरमैन के रूप में अभिनेता अनुपम खेर को चुना गया है जो लगातार भाजपा और मोदी के पक्षधर रहे है। इस पद के लिए अनुपम खेर के नाम की घोषणा होते ही विपक्ष ने इस इस बात के कयास लगाने शुरू कर दिए की ये प्रधानमंत्री मोदी ने अनुपम खेर को चाटुकारिता का इनाम दिया है।

गौरतलब है की पिछले साल जब गजेंद्र चौहान के नियुक्ति पर सवाल उठा था तो अनुपम खेर ने कहा था की “गजेंद्र चौहान के बारे में कोई व्यक्तिगत टिप्पणी नहीं करेंगे क्योंकि वह उन्हें व्यक्तिगत तौर पर नहीं जानते हैं।लेकिन अगर FTII जैसे संस्थान के अध्यक्ष पद पर नियुक्ति के लिए जरूरी योग्यता की बात की जाए तो गजेंद्र निश्चय ही इस नियुक्ति के लिए योग्य उम्मीदवार नहीं माने जा सकते हैं ”

FTII के अध्यक्ष चुने जाने पर चंडीगढ़ से भाजपा सांसद अनुपम खेर की पत्नी किरण खेर ने ट्वीटर पर बधाई देते हुए कहा की “FTII चेरयरमैन बनने के लिए आपको बहु‍त-बहुत बधाई, मैं जानती हूं कि आप शानदार काम करेंगे।” आपको बता दें की अनुपम खेर एक्टर्स प्रिपेयर्स इंस्टीट्यूट के चेयरमैन भी है। अनुपम खेर मूल रूप से कश्मीरी है और वर्ष 1982 में फिल्म “आगमन” से बॉलीवुड में अपने अभिनय करियर की शुरुआत की।