अमूल ने दी खास अंदाज में विराट कोहली और बॉलीवुड अभिनेत्री अनुष्का शर्मा के विवाह बधाई

भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली और बॉलीवुड अभिनेत्री अनुष्का शर्मा के विवाह की खबर पिछले सात दिनों से सुर्खियों में बनी हुई है। इस शादी से जुड़ी हर बात सोशल मीडिया पर धूम मचा रही है। अमूल भी अब इस जश्न में शामिल हो गया है।
अमूल ने अपने खास अंदाज में इस कपल को बधाई दी। अमूल ने अपने विज्ञापन के जरिए विराट-अनुष्का को बधाई दी। इस विज्ञापन में अमूल गर्ल अनुष्का का ड्रेस सही करते हुए दिख रही है और विराट हाथ में ब्रेड और बटर पकड़े हुए दिख रहे हैं। इस विज्ञापन की टैग लाइन हैं – ‘कोहली सजाके रखना… मेहंदी लगाके रखना।’
अमूल समय-समय पर इस तरह के क्रिएटिव एड प्रस्तुत करता रहा है। वह इससे पहले भी कई क्रिकेटरों से जुड़ी अलग-अलग बातों पर एड दे चुका है।
विराट और अनुष्का ने इटली के एक हैरिटेज रिसॉर्ट में 11 दिसंबर को शादी की। अब वे 21 दिसंबर को दिल्ली में और 26 दिसंबर को मुंबई में रिसेप्शन देंगे। इसके बाद विराट भारतीय टीम के साथ दक्षिण अफ्रीका के दौरे पर रवाना होंगे।

न्यूजीलैंड ने वेस्टइंडीज को 240 रनों से हराकर सीरीज 2-0 से जीत ली

न्यूजीलैंड ने मंगलवार को दूसरे टेस्ट मैच में वेस्टइंडीज को 240 रनों से हराकर दो टेस्ट मैचों की सीरीज 2-0 से जीत ली है। सेडन पार्क में 444 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए वेस्टइंडीज की दूसरी पारी 203 पर सिमट गई।
वेस्टइंडीज ने अंतिम दिन 30/2 से आगे खेलना शुरू किया। वेस्टइंडीज ने 100 का आंकड़ा पार करने से पहले ही अपने तीन अन्य विकेट गंवाए। वेस्टइंडीज के लिए दूसरी पारी में सबसे अधिक रन बनाने वाले रोस्टन चेस (64) को वेगनर ने आउट किया। चेस छठे विकेट के रूप में आउट हुए और इसके बाद बाकी बचे चार बल्लेबाज भी 203 के कुल योग तक पैवेलियन पहुंच गए। वेगनर ने 42 रनों पर 3 विकेट लिए। टिम साउदी, ट्रेंट बोल्ट और मिचेल सेंटनर ने दो-दो विकेट लिए।
न्यूजीलैंड के लिए दूसरी पारी में नाबाद शतक लगाने वाले रॉस टेलर (नाबाद 107) को मैन ऑफ द मैच चुना गया। न्यूजीलैंड ने वेलिंग्टन में खेले गए पहले टेस्ट मैच में वेस्टइंडीज को पारी और 67 रनों से हराया था।

इंदौर के तेज गेंदबाज आवेश खान जाएंगे अफ्रीका दौरे पर

इंदौर के तेज गेंदबाज आवेश खान भी भारतीय क्रिकेट टीम के साथ इस महीने के अंत में दक्षिण अफ्रीका दौरे पर जाएंगे। उनके साथ युवा तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज, नवदीप सैनी और बासिल थंपी भी होंगे।
बीसीसीआई ने चार भारतीय तेज गेंदबाजों को टीम इंडिया के साथ भेजने का निर्णय लिया। ये सभी नेट गेंदबाजों के रूप में भारतीय टीम के साथ दक्षिण अफ्रीका जाएंगे। इसके पीछे विचार यह है कि इससे मेहमान टीम के बल्लेबाजों को दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाजों के खिलाफ अच्छी तैयारी में मदद मिलेगी। मालूम हो कि हाल ही में आवेश ने कर्नल सीके नायडू ट्रॉफी में गेंदबाजों से बेहतरीन प्रदर्शन किया है। उन्होंने दो मैचों में कुल 14 विकेट लिए हैं। हालांकि वह रणजी ट्रॉफी में कुछ खास नहीं कर सके और तीन मैचों में सिर्फ 6 विकेट ही ले सके हैं।
20 वर्षीय आवेश अभी तक 8 फर्स्ट क्लास मैचों में 21 विकेट अपने नाम कर चुके हैं। उन्होंने फर्स्ट क्लास डेब्यू दिसंबर 2014 में रेलवे के खिलाफ दिल्ली में किया था। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और श्रीलंका के खिलाफ बोर्ड प्रेसीडेंट इलेवन टीम का प्रतिनिधित्व किया था।

हॉकी विश्व लीग सेमीफाइनल मुकाबले में अर्जेंटीना ने भारत को हराया

गोंजालो पेइलाट के 17वें मिनट में किए गए गोल के दम पर अर्जेंटीना ने शुक्रवार को कलिंगा स्टेडियम में खेले गए हॉकी विश्व लीग फाइनल (एचडब्ल्यूएल) के सेमीफाइनल मुकाबले में मेजबान भारत को 1-0 से हरा दिया। भारत ने ओलंपिक चैम्पियन को अच्छी टक्कर दी और कई मौके बनाए, लेकिन मौकों को भुना नहीं पाने के कारण फाइनल में जाने से वंचित रह गई।
दोनों टीमों ने सधी हुई शुरुआत की और एक-दूसरे को रोके रखा। अर्जेटीना और भारत दोनों ही पहले क्वार्टर में ज्यादा मौके नहीं बना पाईं और दोनों ही तरफ से कोई भी गोल नहीं हो सका लेकिन दूसरे क्वार्टर में अर्जेंटीना की मेहनत रंग लाई और उसने 1-0 की बढ़त ले ली।
17वें मिनट में अर्जेंटीना को पेनाल्टी कॉर्नर मिला जिसे गोंजालो ने गोल में बदलने में कोई गलती नहीं की। इससे आगे बढ़ते हुए भारत ने गोल करने की कोशिशें जारी रखीं। 24वें मिनट में उसे मौका भी मिला, लेकिन मेहमानों की रक्षापंक्ति ने उसे गोल करने नहीं दिया।
मेहमान टीम इस क्वार्टर में लगातार भारत पर हावी रही। दूसरे क्वार्टर के आखिरी मिनट में आकाशदीप ने गोल करने प्रयास किया। हालांकि वह अहम समय गेंद को डी के अंदर नहीं डाल पाए और भारत के पास से गोल करने का एक और मौका निकल गया।
तीसरे क्वार्टर की शुरुआत में भी भारत, अर्जेटीना से पीछे ही रहा। 33वें मिनट में उसके पास गोल करने का मौका आया जिसे आकाशदीप भुना नहीं पाए। 35वें मिनट में भारत को पेनाल्टी कॉर्नर मिला जिसे रूपिंदर गोलपोस्ट के ऊपर खेल बैठे। भारत को तुरंत एक और पेनाल्टी कॉर्नर मिला।
इस बार भी मेजबान टीम बराबरी का गोल दागने से चूक गई। यहां से भारत ने अपने खेल में सुधार किया और मौका बनाने की कोशिश करती रही, लेकिन फिनिशिंग सही न रह पाने के कारण वह गोल नहीं कर सकी। तीसरे क्वार्टर का अंत भी अर्जेंटीना ने 1-0 के स्कोर के साथ किया।
आखिरी क्वार्टर में आते ही गुरजंत ने गोल करने का प्रयास किया और अर्जेंटीना के घेरे में पहुंचे। यहां वह असफल हुए और अर्जेंटीना के ऊपर से खतरा टल गया। अगले ही मिनट में भारत ने एक मौका बनाया जो असफल रहा। बारिश के बीच कई मौके बनाने के बाद भारत इस क्वार्टर में बराबरी का गोल नहीं कर पाई।
आखिरी पांच मिनट में भारत ने मैच को बराबरी तक लाने के लिए अपने गोलकीपर आकाश चिकते को बाहर बुला लिया और चिगलेसाना के रूप में एक और मिडफील्डर मैदान पर उतार दिया। हालांकि कोच शुअर्ड मरेन का यह दांव भी असफल रहा और भारत मैच हार गई।

विश्व हॉकी लीग फाइनल में भारतीय टीम का खराब प्रदर्शन

विश्व हॉकी लीग फाइनल में सोमवार को भी भारतीय टीम का खराब प्रदर्शन जारी रहा। पूल-बी के मैच में जर्मनी ने भारत को 2-0 से हराया। भारतीय टीम अपने पूल में एक भी मैच जीतने में कामयाब नहीं हो सकी। भारतीय टीम इससे पहले इंग्लैंड से भी हारी थी, जबकि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उसका मुकाबला ड्रॉ रहा था।
भारत ने एक अंक के साथ पूल-बी में सबसे निचला स्थान प्राप्त किया। प्रशंसकों को उम्मीद थी कि भारतीय टीम जबर्दस्त खेल दिखाएगी, लेकिन उनकी उम्मीदों पर बहुत जल्द ही पानी फिर गया। दूसरे क्वार्टर में 17वें मिनट में ही जर्मनी के कप्तान मार्टिन हैनर ने गोल करके अपनी टीम को 1-0 से बढ़त दिला दी।
इसके बाद मैट्स ग्रैमबच ने 20वें मिनट में गोल करके जर्मनी की बढ़त को 2-0 कर दिया। जर्मनी के खिलाड़ियों ने पहले क्वार्टर से ही भारतीय टीम पर दबाव बनाना शुरू कर दिया था, लेकिन किसी तरह से भारतीय टीम उनका सामना करने में सफल रही।
पहला क्वार्टर भारत ने कड़े संघर्ष के साथ गोलरहित कराया। जर्मनी ने दूसरे क्वार्टर की शुरुआत में ही मौका पाया और हैनर ने पेनाल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील कर दिया। इसके कुछ मिनट बाद ही ग्रैमबच ने भारत के बीरेंद्र लाकरा को छकाते हुए शानदार गोल कर डाला।
भारतीय टीम को मैच में कुछ अच्छे मौके भी मिले, लेकिन जर्मनी के गोलकीपर टोबियास वाल्टर के शानदार प्रदर्शन से ये गोल में तब्दील नहीं हो सके। वाल्टर ने पहले मनदीप सिंह के शॉट को रोका, तो बाद में आकाशदीप सिंह के शॉट को नेट तक नहीं पहुंचने दिया।

न्यूजीलैंड को करारा झटका टिम साउदी मैच के ठीक पूर्व टीम से बाहर

न्यूजीलैंड को करारा झटका लगा जब उसके प्रमुख गेंदबाज टिम साउदी वेस्टइंडीज के खिलाफ 1 दिसंबर से शुरू होने वाले पहले टेस्ट मैच के ठीक पूर्व टीम से बाहर हो गए।
साउदी पिता बनने वाले हैं और इसके चलते वे अपनी पत्नी के साथ समय बिताना चाहते हैं। साउदी की अनुपलब्धता के चलते लोकी फर्ग्यूसन को टीम में शामिल किया गया था अब बल्लेबाज जॉर्ज वर्कर को भी टीम में शामिल किया गया है।
सिलेक्टर गेविन लार्सन ने कहा, क्रिकेट से भी महत्वपूर्ण कई बातें होती हैं और इसी के चलते साउदी के लिए इस समय परिवार के साथ रहना ज्यादा महत्वपूर्ण है। उधर वर्कर ने इस वर्ष 9 फर्स्ट क्लास मैचों में 49.13 की औसत से 737 रन बनाए हैं। उन्होंने अभी तक 6 सीमित ओवरों के मैचों में मैचों में न्यूजीलैंड का प्रतिनिधित्व किया है, लेकिन वे अभी तक टेस्ट डेब्यू नहीं कर पाए हैं। उन्होंने अक्टूबर 2015 में टी20 मैच में न्यूजीलैंड की तरफ से अंतरराष्ट्रीय डेब्यू किया था।
बीजे वाटलिंग की जगह टीम में शामिल किए विकेटकीपर टॉम ब्लंडैल का पदार्पण करना तय है।

पीवी सिंधु और अवध वारियर्स की साइना नेहवाल आमने-सामने

23 दिसंबर से शुरू होने वाली प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) के तीसरे संस्करण के पहले मुकाबले में चेन्नई स्मैशर्स की पीवी सिंधु और अवध वारियर्स की साइना नेहवाल आमने-सामने होंगी। आठ टीमों की लीग के शुरुआती मुकाबले इस संस्करण की नई टीम नॉर्थ ईस्टर्न वॉरियर्स के घर गुवाहाटी में खेले जाएंगे, जो अपना पहला मुकाबला कैरोलिना मारिन की टीम हैदराबाद हंटर्स से खेलेंगे।
23 दिन तक चलने वाली लीग में सारे मुकाबले रात में होंगे, जिससे खिलाड़ियों को अगले मैच के लिए तैयार होने में समय मिल सके। फाइनल मुकाबला 14 जनवरी को हैदराबाद में खेला जाएगा इस लीग में विश्व नंबर एक पुरुष खिलाड़ी विक्टर एक्सेलसन (बेंगलुरु बलास्टर्स) और विश्व की नंबर एक महिला खिलाड़ी ताई जु यिंग (अहमदाबाद स्मैश मास्टर्स) भी इस लीग का हिस्सा होंगी।
चार दिन गुवाहाटी में मुकाबले होने के बाद लीग दिल्ली पहुंचेंगी, जहां पर पांच दिन तक मुकाबले चलेंगे। इसमें दिल्ली डेशर्स को दो मुकाबले घर में खेलने का फायदा मिलेगा। उनका इरादा बेंगलुरु ब्लास्टर्स और हैदराबाद हंटर्स के खिलाफ अधिक से अधिक अंक लेकर सेमीफाइनल में पहुंचने पर होगा।
दिल्ली के बाद लीग लखनऊ पहुंचेंगी, जहां विक्टर एक्सेलसन की टीम बेंगलुरु सान वान हो की मुंबई रॉकेट्स से भिड़ेगी। यहां पर चार दिन तक मुकाबले होंगे। इसके बाद लीग पांच जनवरी को चेन्नई पहुंचेगी और इसके बाद 10 जनवरी को लीग हैदराबाद पहुंचेगी, जहां पर दो लीग मुकाबले होंगे। 12 और 13 जनवरी को सेमीफाइनल मुकाबले होंगे।

रितु फोगाट ने पोलैंड में चल रही विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में रजत पदक जीतकर खुशी ला दी।

हरियाणा की पहलवान रितु फोगाट (48 किग्रा) ने पोलैंड में चल रही पहली अंडर-23 विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में शुक्रवार को रजत पदक जीतकर भारतीय खेमे में खुशी ला दी।
पिछले तीन दिन से भारतीय पहलवानों का प्रदर्शन निराशाजनक रहा है। ओलिंपियन गीता फोगाट की बहन रितु को टूर्नामेंट के चौथे दिन फाइनल में तुर्की की इविन डेमारहन के हाथों शिकस्त खाकर रजत से ही संतोष करना पड़ा। इससे पहले वॉकओवर से सीधे क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने वाली रितु ने बुल्गारिया की मिगलेना जॉर्जिवा को 4-2 से, जबकि सेमीफाइनल में कड़े मुकाबले में चीन की जियांग जुहु को 4-3 से पराजित किया।
एक अन्य भारतीय पहलवान उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर की दिव्या सेन (69 किग्रा) रेपचेज के मुकाबले में लिथुआनिया की डेनॉट से 4-2 से हराकर कांस्य पदक की दौड़ से बाहर हो गई। वहीं पिंकी जागड़ा (53 किग्रा) क्वालीफाइंग दौर में ही यूक्रेन की पहलवान बेरेजा से 4-0 से हराकर बाहर हो गईं।

भारतीय स्टार महिला खिलाड़ी पीवी सिंधू ने गुरुवार को विजयी अभियान जारी किया।

रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता भारतीय स्टार महिला खिलाड़ी पीवी सिंधू ने गुरुवार को अपना विजयी अभियान जारी रखते हुए हांगकांग ओपन सुपर सीरीज बैडमिंटन चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। हालांकि, ओलंपिक कांस्य पदक विजेता भारतीय खिलाड़ी साइना नेहवाल और एचएस प्रणय अपने-अपने मुकाबलों में हार के साथ टूर्नामेंट से बाहर हो गए।
विश्व चैंपियनशिप की रजत पदक विजेता सिंधू ने महिला सिंगल्स के मुकाबले में जापान की अया ओहोरी को 21-14, 21-17 से हराकर अगले दौर में जगह बनाई। विश्व की तीसरे नंबर की खिलाड़ी सिंधू ने दूसरे दौर का यह मुकाबला 39 मिनट में अपने नाम किया।
सिंधू की यह जापानी खिलाड़ी पर तीसरी जीत है। सिंधू का अगले दौर में एक और जापानी खिलाड़ी अकोन यामागुची से शुक्रवार को मुकाबला होगा। विश्व की दसवें नंबर की खिलाड़ी नेहवाल अपनी लय में नहीं दिखी और महिला सिंगल्स के दूसरे दौर के मुकाबले में आठवीं वरीय चीन की चेन युफेई 21-18, 19-21, 10-21 से हार गई।
चीनी खिलाड़ी ने नेहवाल को एक घंटे से भी कम समय में शिकस्त देकर टूर्नामेंट से बाहर का रास्ता दिखाया। पुरुष सिंगल्स में भारतीय खिलाड़ी एचएस प्रणय को हार का सामना करना पड़ा। वह जापान के कजूमासा सकाई से 21-11, 10-21, 15-21 से 54 मिनट में हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गए।
प्रणय को तीसरी बार सकाई से हार का सामना करना पड़ा। इससे पहले अन्य भारतीय खिलाड़ी पारूपल्ली कश्यप और सौरव वर्मा पहले दौर में हार गए थे।

भारतीय मुक्केबाज विजेंदर सिंह अगला प्रोफेशनल मुकाबला लड़ेंगे अगले साल

अजेय भारतीय मुक्केबाज विजेंदर सिंह अपना अगला प्रोफेशनल मुकाबला अगले साल कॉमनवेल्थ सुपर मिडिलवेट चैंपियन रॉकी फील्डिंग से लड़ेंगे। यह ब्रिटिश मुक्केबाज 30 मार्च को विजेंदर के खिलाफ ब्रिटेन में अपना खिताब बचाने उतरेंगे। मंगलवार को यह घोषणा की गई।
फील्डिंग ने गत 30 सितंबर को लीवरपूल में डेविड ब्रॉफी को मात देकर यह बेल्ट जीता था। दूसरी ओर 31 वर्षीय विजेंदर प्रो मुक्केबाज बनने के बाद से लगातार नौ मुकाबले जीत चुके हैं। दोनों के बीच इस मुकाबले के नियम एवं शर्तों की घोषणा अगले कुछ महीनों में की जाएंगी। फील्डिंग हालांकि डब्ल्यूबीओ एशिया पैसिफिक और अोरिएंटल सुपर मिडलवेट चैंपियन विजेंदर से कहीं ज्यादा अनुभवी हैं।
विजेंदर ने अगस्त में चीन के जुल्पिकार मैमतअली को दस राउंड के मुकाबले में मात देकर अपना डब्ल्यूबीओ एशिया पैसेफिक सुपर मिडिलवेट खिताब बरकरार रखने के साथ ही जुल्पिकार से उनका डब्ल्यूबीओ ओरिएंटल सुपर मिडिलवेट खिताब भी छीन लिया था। उसके बाद से वे पहली बार रिंग में नहीं उतरेंगे।