भारतीय महिला टीम ने दूसरे वन-डे मैच में मेजबान दक्षिण अफ्रीका को 178 रनों से हरा दिया

स्मृति मंधाना (135) और झूलन गोस्वामी (200 विकेट) के रिकॉर्डतोड़ प्रदर्शन से भारतीय महिला टीम ने दूसरे वन-डे मैच में मेजबान दक्षिण अफ्रीका को 178 रनों से हरा दिया। इस जीत के साथ ही भारत ने तीन मैचों की वन-डे सीरीज 2-0 से जीत ली है। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 3 विकेट पर 302 रन बनाए। जवाब में दक्षिण अफ्रीका की टीम 30.5 ओवर में 124 रनों पर सिमट गई।
लक्ष्य का पीछा करते हुए सलामी बल्लेबाज एल. ली (73) के जूझारू अर्धशतक के अलावा कोई भी बल्लेबाज टिक नहीं सकी। उनके अलावा एम काप (17*) ही दोहरी रन संख्या तक पहुंचने में सफल रहीं। पूनम यादव ने 4 जबकि राजेश्वरी गायकवाड़ व दीप्ति शर्मा ने 2-2 विकेट लिए। झूलन गोस्वामी ने एक विकेट लिया। इस विकेट के साथ ही उन्होंने अंतरराष्ट्रीय महिला वन-डे क्रिकेट में 200 विकेट पूरे कर लिए। वह यह कारनामा करने वाली पहली महिला क्रिकेटर हैं। वह सर्वाधिक विकेट लेने वाली गेंदबाजों में शीर्ष पर हैं।
इससे पहले टॉस जीतने के बाद दक्षिण अफ्रीका ने भारत को बल्लेबाजी का न्यौता दिया। स्मृति ने 129 गेंदों पर 135 रनों की धमाकेदार पारी खेली, जिसमें 14 चौके और एक छक्का शामिल रहा। साथ ही उन्होंने अपने नाम अनोखा रिकॉर्ड दर्ज कर लिया। वे भारत के ‍बाहर तीन देशों में शतक लगाने वाली भारत की पहली महिला बल्लेबाज बनीं। स्मृति इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में भी शतक जड़ चुकी हैं। उनके अलावा उपकप्तान हरमनप्रीत कौर ने नाबाद 55 और वेदा कृष्णमूर्ति ने 33 गेंदों पर नाबाद 51 रन बनाए।
स्मृति ने पूनम राउत (20) के साथ आक्रामक शुरुआत की, लेकिन पूनम जल्दी आउट हो गईं। स्मृति ने कप्तान मिताली राज (20) के साथ 51 रन और इसके बाद स्मृति और हरमनप्रीत ने तीसरे विकेट के लिए 134 रनों की साझेदारी कर टीम को बड़े स्कोर की ओर पहुंचाया। स्मृति को स्पिनर राइसिबे नोजखे ने चलता किया। वेदा और हरमनप्रीत ने चौथे विकेट के लिए नाबाद 61 रन जोड़ टीम को 300 पार पहुंचाया।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने की सऊदी के विदेश मंत्री आदिल अल-जुबेर से मुलाकात

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बुधवार को रियाद में अपने सऊदी के विदेश मंत्री आदिल अल-जुबेर से मुलाकात की। बैठक में द्विपक्षीय व्यापार, ऊर्जा और रक्षा समेत कई मसलों पर बात हुई।
सुषमा सऊदी अरब के अपने पहले दौरे पर मंगलवार को यहां पहुंचीं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया, “सुषमा स्वराज ने सऊदी अरब के विदेश मंत्री अदेल अल-जुबेर से मुलाकात की और रणनीतिक साझीदारी को और मजबूत करने पर चर्चा की। उनके बीच क्षेत्रीय और वैश्विक मसलों पर भी चर्चा हुई।”
इस दौरे पर सुषमा खाड़ी देश के प्रतिष्ठित जनाद्रिया उत्सव का उद्घाटन भी करेंगी। इस उत्सव में सऊदी संस्कृति और विरासत का प्रदर्शन किया जाता है। भारत इसमें विशिष्ठ अतिथि देश है। सुषमा ने इस उत्सव में भारत को विशिष्ट अतिथि का सम्मान देने के लिए सऊदी सरकार का आभार व्यक्त किया है।
उन्होंने मंगलवार शाम को भारतीय समुदाय के एक कार्यक्रम को भी संबोधित किया। सऊदी में करीब 30 लाख भारतीय रहते हैं। 2016 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ऐतिहासिक दौरे के बाद से इस खाड़ी देश के साथ भारत के संबंध नई ऊंचाई पर हैं। चीन, अमेरिका और संयुक्त अरब अमीरात के बाद सऊदी अरब भारत का चौथा बड़ा कारोबारी साझीदार है।

असम के डिब्रूगढ़ यूनिवर्सिटी ने बैचलर डिग्री के तीन संकाय के पहले, तीसरे व पांचवें सेमेस्टर रिजल्ट घोषित

असम के डिब्रूगढ़ यूनिवर्सिटी ने बैचलर डिग्री के तीन संकाय कॉमर्स, आर्ट्स और साइंस के पहले, तीसरे व पांचवें सेमेस्टर 2017 के रिजल्ट घोषित कर दिए हैं। इस परीक्षा में शामिल स्टूडेंट्स यूनिवर्सिटी की आधिकारिक वेबसाइट dibru.net पर जाकर देख सकते हैं।
अपना रिजल्ट ऐसे करें चेक –
– यूनिवर्सिटी की आधिकारिक वेबसाइट dibru.net पर लॉगइन करें।
– होमपेज पर बीए, बीकॉम और बीएससी रिजल्ट 2017 के नोटिफिकेशन पर क्लिक करें। इसके बाद दिए गए लिंक के जरिये आप रिजल्ट्स पेज पर पहुंच जाएंगे।
– इसके बाद अपने कोर्स सेलेक्ट करें। इसके बाद अपना रोल नंबर डालें।
– आपका रिजल्ट सामने आ जाएगा। इसे डाउनलोड कर प्रिंट आउट ले लें।

दादर के प्रभादेवी क्षेत्र में रहने वाले लोगों ने चार करोड़ में फ्लैट खरीदा।

दादर के प्रभादेवी क्षेत्र में स्थित ऋषिकेश अपार्टमेंट्स के रहने वाले लोगों ने चार करोड़ में फ्लैट खरीदा। वीआईपी इलाका होने के कारण उन्हें लगा यहां से नजारे अच्छे दिखेंगे और माहौल सुरक्षित होगा। मगर, उनके सपनों पर पानी फिर गया है।
पिछले करीब छह महीनों से इमारत के निवासियों की सुबह घर के सामने ही खुले में शौच करने वाले लोगों को देखते हुए होती है। रात में इमारत के सामने के फुटपाथ में बेघर लोगों को कब्जा हो जाता है। इतना ही नहीं नशीली दवाओं का सेवन करने वाले और शराबी आसपास के क्षेत्र में बवाल करते घूमते हैं।
इतना सब होने के बाद स्थानीय लोगों ने बीएमसी और पुलिस से कई बार शिकायत की, लेकिन नतीजे हर बार सिफर ही रहे हैं। लिहाजा, निवासियों को अपने खर्च पर सुरक्षा व्यवस्था करनी पड़ रही है।
यह इमारत वीर सावरकर मार्ग के निकट स्थित है, जो एक वीआईपी इलाका है। क्योंकि एयरपोर्ट जाने के लिए सरकारी अधिकारियों का पसंदीदा रास्ता है। बावजूद इसके, किसी भी अधिकारी का ध्यान इस समस्या की ओर नहीं गया है।
इमारत की सुरक्षा के लिए सोसाइटी के लोग हर महीने करीब 15,000 रुपए अतिरिक्त खर्च करने पड़ रहे हैं। हर समय इमारत में चार गार्ड तैनात रहते हैं। हाउसिंग सोसाइटी के ऑनररी सेक्रेट्री डॉक्टर पुनीत शाह ने बताया कि वह करीब नौ महीने पहले इस इमारत में शिफ्ट हुए थे।
कुछ दिनों में मैंने फुटपाथ पर बैठे लोगों पर ध्यान देना शुरू किया। शुरुआत में मैंने सोचा कि वे विक्रेता होंगे, लेकिन जब मैंने उन्हें फिर से देखा, तो महसूस किया कि उन लोगों ने पूरे क्षेत्र पर कब्जा कर लिया है। वे फुटपाथ पर रहते हैं, वहीं खाना बनाते हैं, खाते हैं और पास में ही खुले में शौच करते हैं।
इसके अलावा वहां नशेबाजों, शराबियों ने कई बार सोसाइटी के लोगों पर हमला किया, जिसके बाद समिति के सदस्यों ने दादर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। हमने फुटपाथ में रहने वालों को वहां से हटाने के लिए पुलिस से अनुरोध किया, लेकिन पुलिस ने हमारी समस्या को नजरअंदाज कर दिया।
20 से अधिक लोग फुटपाथ पर रहते हैं। डॉ. शाह ने मुंबई पुलिस आयुक्त दत्तात्रेय को भी पत्र लिखा है, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि सोसाइटी के रहवासियों और असमाजिक तत्वों के बीचआधी रात को होने वाले झगड़ों से तंग आ गए हैं।
एक रहवासी ने कहा कि जब हम लोगों ने उन लोगों को अतिक्रमण हटाने के लिए कहा, तो तीन बार रहवासियों पर हमला किया गया। निवासी ने कहा कि हम समझ नहीं पा रहे हैं कि पुलिस उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं कर रही है।
फुटपाथ के बगल में इलेक्ट्रॉनिक कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड की बिल्डिंग है। डॉ. शाह ने कहा कि उस बिल्डिंग के गार्ड्स ने भी जब अतिक्रमण हटाने के लिए कहा, तो उन पर भी हमला किया गया। उन्होंने कहा कि सोसाइटी में कई वरिष्ठ नागरिक अकेले रहते हैं। उनकी सुरक्षा के लिए हमें अतिरिक्त पैसे खर्च करने पड़ रहे हैं। हमें उम्मीद है कि पुलिस इस मामले में शीघ्र कार्रवाई करेगी।

राजधानी का तापमान दस डिग्री सेल्सियस लुढ़क गया

राजधानी का तापमान एक ही दिन में दस डिग्री सेल्सियस लुढ़क गया। पश्चिमी विक्षोभ के पास होने के साथ ही देश के अलग-अलग स्थानों पर बने चक्रवातों के असर से प्रदेश के मौसम में अचानक बदलाव आ गया। आसमान पर बादल छाने के कारण कुछ स्थानों पर हल्की बरसात हुई,वहीं दिन के तापमान काफी नीचे लुढ़क गया।
इसी क्रम में राजधानी में बुधवार का अधिकतम तापमान 19.5 डिग्री दर्ज हुआ,जो सामान्य से 7 डिग्री कम होने के साथ ही मंगलवार(29.1) के मुकाबले 9.6 डिग्री कम रहा।
मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक पंजाब,हरियाणा और को कण पर ऊपरी हवा के चक्रवात बने हुए हैं। साथ ही मध्य भारत पर एक प्रतिचक्रवात बना है। इन सिस्टमों के कारण अरब सागर से बड़े पैमाने पर नमी आ रही है। इस वजह से आसमान पर बादल छा गए है और हल्की बरसात की स्थिति बनी हुई है।
बादलों के कारण धूप नहीं निकली,इस वजह से राजधानी सिंहत प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर दिन के तापमान में काफी गिरावट दर्ज हुई।
भोपाल में बुधवार का दिन हिल स्टेशन पचमढ़ी(24.0) से भी ठंडा रहा। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक अभी एक-दो दिन इस तरह का मौसम बना रहने के आसार हैं।