इंडिया ब्लू ने सीनियर महिला वन-डे चैलेंजर ट्रॉफी की अपने नाम

स्मृति मंधाना की कप्तानी में इंडिया ब्लू ने सीनियर महिला वन-डे चैलेंजर ट्रॉफी अपने नाम की। उसने फाइनल में अनुजा पाटिल की इंडिया ग्रीन को 33 रनों से हराया। वर्ष 2008-09 में शुरु हुई इस स्पर्धा में ब्लू ने पांचवीं बार यह ट्रॉफी जीती। इससे पहले वह 2010-11, 2012-13, 2013-14, 2015 में विजेता बन चुकी है।
होलकर स्टेडियम में इंडिया ब्लू ने पहले खेलते हुए निर्धारित 50 ओवरों में 9 विकेट पर 207 रन बनाए। जवाब में इंडिया ग्रीन की टीम 45.2 ओवरों में 174 रनों पर सिमट गई। एक समय टीम 4 विकेट पर 170 रन बना चुकी थी, लेकिन अगले 4 रनों के भीतर पूरी टीम पैवेलियन लौट गई। पूनम राउत (88) और जेमी रॉड्रिग्स (43) ने ग्रीन को जिस तरह की शुरुआत दी थी, उससे लग रहा था कि वह मैच जीता लेगी लेकिन 153 गेंदों पर 114 रनों की साझेदारी के बाद रॉड्रिग्स को राजेश्वरी गायकवाड़ ने प्रत्युषा के हाथों कैच कराकर ग्रीन को करारा झटका दिया।
इसके बाद ब्लू के गेंदबाजों ने ग्रीन के अंतिम 9 बल्लेबाजों को कुल स्कोर में सिर्फ 41 रन ही जोड़ने दिए। प्रत्युषा ने प्रीति बोस, शांति कुमारी को लगातार गेंदों पर आउट किया, लेकिन मेघना सिंह ने उनकी हैटट्रिक लेने की उम्मीदों को पूरा नहीं होने दिया। तीनों बल्लेबाज अपना खाता भी नहीं खोल सकी।

पांच लाख साल पुराने पत्थर के औजार खोजे इजरायल के पुरातत्वविदों ने

इजरायल के पुरातत्वविदों ने पांच लाख साल पुराने पत्थर के औजार खोजे हैं। इन औजारों की बनावट देखने के बाद वैज्ञानिकों का अनुमान है कि उस वक्त के आदिमानवों की दिमागी क्षमता हमारे जैसी ही थी। खोजे गए औजारों में ज्यादातर कुल्हाड़ी की तरह हैं। ये स्विस सेना के चाकू से भी मिलते-जुलते हैं।
तेलअवीव यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं का कहना है कि आदिमानवों ने पहले इस तरह के औजार बनाने की कल्पना की फिर उसे मूर्त रूप दिया। आदिमानवों ने अपनी जरूरत के अनुसार विभिन्न तकनीकों से पत्थर के इन हथियारों का निर्माण किया था। इन औजारों को इजरायल के जालिजुलिया शहर के पास से खोद कर निकाला गया।
खुदाई करने वाली टीम के नेतृत्वकर्ता मायान शीमेर ने कहा, ‘खोजे गए सभी औजार अलग-अलग तकनीक से बनाए गए हैं जो इस खोज को और अद्भुत बनाता है। इसके बाद वैज्ञानिकों को आदिमानव व पुरातन पशुओं की कई प्रजातियों के बारे में जानकारी मिल सकेगी।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया पहले विदेशी सांसद सम्मेलन का दिल्ली में उद्घाटन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को देश के पहले विदेशी सांसद सम्मेलन का दिल्ली में उद्घाटन किया। इस दौरान इस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि 125 हिंदुस्तानियों की तरफ से आपका स्वागत है। वेलकम टू इंडिया, वेलकम टू होम। इस सम्मेलन में 23 देशों के 124 सांसद और 17 मेयर के शामिल हुए।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि 21वीं सदी को एशियाई देशों की सदी माना जा रहा है और इसमें बारत बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। हमारी नजर किसी के संसाधनों या जमीन पर नहीं है। हमरा फोकस हमेशा अपनी क्षमता बढ़ाने पर है।
इससे पहले पीएम मोदी ने कहा कि पीएम ने कहा कि भारत अब बहुत आगे बढ़ चुका है, स्वयं में बदल रहा है और ट्रांसफॉर्म हो रहा है। पहले जैसा था वैसा चलता रहेगा, कुछ बदलेगा नहीं की सोच से भारत काफी आगे निकल गया है। हमारे लोगों की सोच, विचार और उम्मीदें चरम पर हैं क्योंकि देश ट्रांसफॉर्मेशन से गुजर रहा है। 21वीं सदी को ध्यान में रखते हुए सरकार तकनीक, यातायात व अन्य में निवेश कर रही है। आज विश्व बैंक, आईएमएफ, मूडीज जैसी संस्थाएं भारत की तरफ बेहद सकारात्मक तरीके से देख रही हैं। 2016-17 में भारत में 60 बिलियन डॉलर का एफडीआई हुआ है।
इससे पहले अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए पीएम ने कहा कि एक समय था जब कुछ लोग मजबूरी में तो कुछ लोग जबरन यहां से गए। भारतीय जहां भी गए वहां की जगह को अपना बनाया। आपकी यादें भारत के कोने-कोने से जुड़ीं हैं। आज भारतीय कई देशों में सांसद हैं और उनकी तरक्की से हर भारतवासी खुश होता है। आपके पूर्वज आज जहां भी होंगे आपको भारत में देखकर खुश हो रहे होंगे।

राजस्थान की वसुंधरा राजे सरकार देने जा रही है पं. दीनदयाल उपाध्याय को महापुरुष का दर्जा

राजस्थान की वसुंधरा राजे सरकार भारतीय जनसंघ के संस्थापक पं. दीनदयाल उपाध्याय को महापुरुष का दर्जा देने जा रही है। राज्य सरकार ने तय किया है कि सरकारी कार्यक्रमों में महात्मा गांधी की तस्वीर के साथ अब उपाध्याय की फोटो भी लगाई जाएगी। इसके साथ ही उनका जन्मदिन गांधी जयंती की तर्ज पर मनाने को लेकर भी विचार किया जा रहा है।
सरकारी लेटर पैड और आदेशों में उपाध्याय का चित्र भी अनिवार्य किया जाएगा। इससे पहले प्रदेश के सरकारी विज्ञापनों में उपाध्याय की तस्वीर अनिवार्य करने के साथ ही स्कूलों की लाइब्रेरी में उनकी जीवनी रखना अनिवार्य किया जा चुका है।
जानकारी के अनुसार, सरकारी विज्ञापनों की तर्ज पर लेटर पैड व आदेशों में भगवा रंग में उपाध्याय की तस्वीर वाला लोगो छापा जाएगा। इसके साथ ही भाजपा विधायकों के लेटरपैड पर भी उपाध्याय की तस्वीर छापना अनिवार्य किया गया है। सूत्रों के अनुसार, अगले कुछ दिनों में इसको लेकर राज्य के सामान्य प्रशासन विभाग की ओर से आदेश जारी कर दिया जाएगा।
सचिवालय में तैनात एक आइएएस अधिकारी ने बताया कि यह आदेश जारी होने के बाद क्रियान्वयन की जिम्मेदारी जिला कलेक्टरों को सौंपी जाएगी। कांग्रेस ने वसुंधरा सरकार पर संघ के एजेंडे को लागू किए जाने का आरोप लगाते हुए कहा कि जिस तरह से शिक्षा का भगवाकरण किया गया, उसी तरह अब प्रशासन का भगवाकरण करने का प्रयास किया जा रहा है।

पटरी में दो इंच का गैप इंदौर-भोपला इंटरसिटी ट्रेन को रोक लिया गया

लक्ष्मीबाई नगर और मांगलिया रेलवे स्टेशन के बीच पटरी में दो इंच का गैप आ गया। समय रहते इसकी जानकारी मिल जाने पर बड़ा हादसा टल गया। इसके बाद भोपाल और इंदौर के बीच चलने वाली ट्रेनें प्रभावित हो गईं। इंदौर-भोपला इंटरसिटी ट्रेन को रोक लिया गया। पटरी जिस जगह से क्रेक हुई वहां से ट्रेनों को 10 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से निकाला गया। इसके बाद रेलवे कर्मचारी पटरी को ठीक करने के काम में लग गए हैं।
जैसे ही रेलवे को पटरी में क्रेक की सूचना मिली, इस रूट की सभी ट्रेनों को रोक दिया गया। रेलवे कर्मचारियों ने देखा तो उसमें दो इंच का गैप था। इसके बाद ट्रेनों को कम रफ्तार में यहां से निकालने का फैसला लिया गया।