एक प्लेटफार्म पर आएंगे सभी विश्वविद्यालय

प्रदेश के विभिन्न् विश्वविद्यालयों के अंतर्गत आने वाले कॉलेजों की फीस अब विवि तय करेंगे। कॉलेज छात्रों को कौन-कौन सी सुविधाएं दे रहे हैं, उनकी आधारभूत संरचना कैसी है और स्तर कैसा है इसके आधार पर निजी कॉलेजों की फीस तय की जाएगी।
उच्च शिक्षा विभाग इसके लिए एक केंद्रीय समिति भी बनाएगा जिसे विश्वविद्यालय अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे। बुधवार को उच्च शिक्षा विभाग के अधिकारियों और विश्वविद्यालयों के कुलसचिवों की बैठक में यह तय हुआ।
अब तक विश्वविद्यालय कालेजों को संबद्धता देते हैं और फीस उच्च शिक्षा विभाग की ओर से तय की जाती है। फीस निर्धारण में और पारदर्शिता लाने के लिए विश्वविद्यालयों को भी इसमें शामिल किया जा रहा है। ऐसा इसलिए किया जा रहा है ताकि विवि अपने क्षेत्र के कालेजों की फीस का निर्धारण बेहतर तरीके से कर सकें। इसके लिए विश्वविद्यालय स्तर पर भी कमेटी बनाई जाएगी।
कालेजों की फीस तय होने के बाद इसे कार्यपरिषद की बैठक में भी रखा जाएगा और उच्च शिक्षा विभाग को भी रिपोर्ट दी जाएगी। उच्च शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने बताया कि कॉलेजों की फीस में एकरूपता संभव नहीं है लेकिन सामान्य पाठ्यक्रमों के लिए इसके स्लैब बनाए जा सकते हैं।
बैठक में सभी विश्वविद्यालयों को एक प्लेटफार्म पर लाने के विषय पर भी चर्चा हुई। यह तय हुआ कि सभी विश्वविद्यालयों को आनलाइन एक इनरफेस पर लाया जाएगा। उच्च शिक्षा विभाग इसे तैयार कराएगा। इसके तहत छात्र एक ही जगह से विभिन्न् विश्वविद्यालयों में संचालित हो रहे पाठ्यक्रम, फीस, फैकल्टी, छात्र संख्या आदि के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। छात्रों को कॅरियर गाइडेंस संबंधी जानकारी भी दी जाएगी।
बैठक में उच्च शिक्षा विभाग आईटी सेल के अधिकारियों ने बताया कि छात्रों को दिए गए स्मार्ट फोन पर भी एप उपलब्ध कराया जाएगा ताकि वे सभी विश्वविद्यालयों की जानकारी एक जगह से हासिल कर सकें।
बैठक में जानकारी दी गई कि विश्वविद्यालयों को एक प्लेटफार्म पर लाने से रियल टाइम डाटा मिलेगा। छात्रों को कियोस्क जाने की जरूरत भी नहीं होगी। वे अपने मोबाइल से ही बैठे-बैठे विभिन्न् विश्वविद्यालयों की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। विश्वविद्यालयों में होने वाले दाखिले भी इस प्रक्रिया में शामिल किए जा रहे हैं। उच्च शिक्षा विभाग के अधिकारियों को जानकारी दी गई कि रियल टाइम में यह जानकारी भी दी जा सकती है कि किस प्रोफेसर ने आज क्या पढ़ाया, कल वे क्या पढ़ाएंगे। इसके लिए प्रावधान करना होंगे और सभी को गंभीरता से प्रयास करना होंगे।
विश्वविद्यालयों और कालेजों में प्रवेश के लिए ई-प्रवेश प्लेटफार्म उपलब्ध कराया जाएगा इसमें छात्र के आवेदन का वैरिफिकेशन, दस्तावेजों का सत्यापन आदि भी शामिल रहेगा। इसके माध्यम से विवि के यूटीडी में भी प्रवेश के लिए आवेदन किए जा सकेंगे।
बैठक में यह तथ्य भी सामने आया कि अनेक ऐसे छात्र हैं जिन्हें स्कालरशिप मिलती है। लेकिन वे कालेज ही नहीं आते। वे कहीं नौकरी करते हैं। ओबीसी विभाग की स्कालरशिप में यह बात सामने आई है। इस कारण ऐसे छात्रों के लिए बायोमेट्रिक अटेंडेंस का प्रावधान किया जाएगा। यह देखा जाना भी जरूरी है कि कालेज में पढ़ने आते भी हैं या नहीं। या केवल स्कॉलरशिप ही लेते हैं।
बैठक में बताया गया कि छात्रों को जो आनलाइन प्रवेश दिए जाते हैं उसका शुल्क लिया जाता है। इस पर अपर मुख्य सचिव बीआर नायडू ने कहा कि शुल्क को कम से कम किया जाए। इसमें किसी भी प्रकार से लाभ को आधार नहीं बनाया जाना चाहिए। इस मौके पर अपर संचालक जगदीशचंद्र जटिया ने कहा कई विश्वविद्यालयों ने हाईकोर्ट को कई मामलों में जवाब नहीं दिया है। जवाब दाखिल किया जाए।
सीएम हेल्पलाइन के लंबित मामलों का समाधान समय से करें। बैठक में बताया गया कि मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना विश्वविद्यालयों और अनुदान प्राप्त कालेजों में लागू की जाएगी। बैठक में बरकतउल्ला विवि के कुलसचिव डा. यूएन शुक्ला, बुंदेलखंड विवि के डा. संजय तिवारी, डा. बी भारती, डा.एके पांडे सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

न्यूजीलैंड ने विंडीज को अंतिम वनडे में 66 रनों से हराया।

रॉस टेलर और ट्रेंट बोल्ट के दमदार प्रदर्शन की मदद से न्यूजीलैंड ने मंगलवार को वर्षा प्रभावित तीसरे और अंतिम वनडे में विंडीज को डकवर्थ-लुईस पद्धति से 66 रनों से हराया। न्यूजीलैंड ने 23 ओवरों में 4 विकेट पर 131 रन बनाए। विंडीज को 23 ओवरों में 166 रनों का संशोधित लक्ष्य मिला जिसके जवाब में वह 9 विकेट पर 99 रन ही बना पाया।
इसी के साथ न्यूजीलैंड ने तीन मैचों की सीरीज में विंडीज का 3-0 से सफाया किया। रॉस टेलर मैन ऑफ द मैच और ट्रेंट बोल्ट मैन ऑफ द सीरीज चुने गए। विंडीज इस दौरे पर एक भी मैच नहीं जीत पाया।
लक्ष्य का पीछा कर रहे विंडीज की शुरुआत बहुत खराब रही और उसने मात्र 9 रनों के अंदर 5 विकेट गंवा दिए। मैट हैनरी ने क्रिस गेल (4) और काइल होप (1) को आउट किया तो बोल्ट ने शाई होप (2), चैडविक वॉल्टन (0) और जेसन मोहम्मद (1) को पैवेलियन लौटाया। इसके बाद मिचेल सेंटनर ने तीन विकेट झटकते हुए मेहमानों की पारी को सीमित कर दिया। जेसन होल्डर (34), निकिता मिलर (20 नाबाद) और शेनोन गेब्रिएल (12) और रोवमैन पॉवेल (11) ही दोहरी रन संख्या तक पहुंचे। बोल्ट ने 18 रनों पर 3 और सेंटनर ने 15 रनों पर 3 विकेट लिए। मैट हैनरी ने 2 विकेट लिए।
इसके पूर्व न्यूजीलैंड की शुरुआत खराब रही और उसने 26 रनों पर 3 विकेट गंवा दिए। न्यूजीलैंड ने जब 19 ओवरों में 3 विकेट पर 83 रन बनाए थे, तभी बारिश शुरू हो गई। इसके बाद मैच 23 ओवरों का कर दिया गया और उस वक्त न्यूजीलैंड ने 4 विकेट पर 131 रन बनाए। इसके बाद रॉस टेलर (47 नाबाद) और टॉम लाथम (37) ने चौथे विकेट के लिए 73 रन जोड़े। हैनरी निकोल्स 18 रनों पर नाबाद रहे।

वैज्ञानिकों ने हासिल की सौरमंडल के निर्माण की प्रक्रिया खोजने में सफलता

वैज्ञानिकों ने सौरमंडल के निर्माण की प्रक्रिया खोजने में सफलता हासिल की है। अब तक माना जाता था कि तारों के विस्फोट यानी सुपरनोवा से सौरमंडल का निर्माण हुआ है। नए शोध के मुताबिक सूर्य से 40-50 गुना अधिक बड़े वुल्फ-रयेट तारे के नष्ट होने के वक्त निकले बुलबुलों से हमारा सौरमंडल विकसित हुआ।
वुल्फ रयेट स्टार ने जब अपने कुछ तत्वों को बाहर निकालना शुरू किया तो तारों के बीच चल रही हवाएं इन्हें उड़ा ले गईं। इन तत्वों से बुलबुले जैसा एक ढांचा तैयार हुआ जिसके बीच गैस और धूल भरी हुई थी। एस्ट्रोफिजिकल जर्नल में प्रकाशित शोध के अनुसार इस ढांचे में एक से सोलह प्रतिशत तक सूर्य जैसे तारों का निर्माण हो सकता था।
पुराने शोध के मुताबिक जिस सुपरनोवा से सौरमंडल का विकास हुआ, उसमें अल्युमिनियम -26 और आयरन-60 के आइसोटोप (विभिन्न न्यूट्रॉन संख्या वाले समान तत्व) प्रमुखता से उपलब्ध थे। फिर 2015 में हुए एक अध्ययन में सामने आया था कि सौरमंडल में केवल अल्युमिनियम के आइसोटोप ही उपलब्ध हैं। नया अध्ययन इसलिए ज्यादा प्रमाणिक माना जा रहा है क्योंकि वुल्फ रयेट से केवल अल्युमिनियम-26 ही निकला था।
शिकागो यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिक प्रो. विक्रम दास बताते हैं कि वुल्फ-रयेट विस्फोट से या ब्लैक होल में जाकर नष्ट हो गया था। बुलबुले की तरह दिखने वाले ढांचे का कुछ अंश गुरुत्वाकर्षण बल के कारण नष्ट हुआ और शेष भाग से सौर मंडल का निर्माण संभव हो पाया।

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह पर की गई टिप्पणी को लेकर

संसद का शीतकालीन सत्र जारी है और इसके साथ ही हंगामा भी। कांग्रेस पहले दिन से पीएम मोदी द्वारा पूर्व पीएम मनमोहन सिंह पर की गई टिप्पणी को लेकर विरोध कर रही है जिसके चलते दोनों सदनों की कार्यवाही प्रभावित हो रही है। बुधवार को भी दोनों सदनों में कांग्रेस ने जमकर हंगामा किया।
राज्यसभा में जहां विपक्ष ने अनंत कुमार हेगड़े के संविधान बदलने वाले बयान पर हंगामा किया वहीं लोकसभा में विपक्ष मनमोहन सिंह पर पीएम के बयान को लेकर अपनी मांगे लिए अड़ा रहा। इससे पहले कांग्रेस ने लोकसभा में अनंत कुमार हेगड़े के बयान को लेकर स्थगन प्रस्ताव दिया। उधर नियम 267 के तहत कांग्रेस ने राज्य सभा में कार्यवाही रोकने का नोटिस भी दिया है।
इस हंगामे के बीच विदेश मंत्री सुषमा स्वराज गुरुवार को 11 बजे विदेश मंत्री सुषमा स्वराज राज्यसभा में और 12 बजे लोकसभा में जाधव मामले में बयान देंगी। इस बीच अनंत कुमार ने तीन तलाक के बिल पर सभी पार्टियों से विनम्र निवेदन किया है। उन्‍होंने कहा है कि हम सभी विपक्षी दलों से अपील करते हैं कि तीन तलाक पर बिल को पास करने में मदद करें।
दरअसल, केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने धर्मनिरपेक्ष लोगों का मजाक उड़ाने वाला बयान देकर एक और विवाद खड़ा कर दिया है। उन्होंने कहा कि धर्मनिरपेक्ष लोग अपनी जड़ों से अनजान होते हैं। बता दें कि 4 दिनों के संसद के शीतकालीन सत्र की कार्यवाही बुधवार को एक फिर शुरू होनी है। बता दें कि इससे पहले कांग्रेस ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर दिए गए बयान पर पीएम नरेंद्र मोदी से माफी मांगने की मांग पर अड़े हुए थे। हालांकि भाजपा ने साफ कर दिया है कि पीएम मोदी सदन में कोई माफी नहीं मांगेंगे।
जानकारी मिल रही है कि मुस्लिमों में एक ही बार में तीन तलाक कहने की प्रथा को आपराधिक बनाने वाला विधेयक लोकसभा में गुरुवार को पेश किया जाएगा। इसके लिए भाजपा ने कमर कस ली है। भाजपा ने विप जारी करके लोकसभी सांसदों को गुरुवार और शुक्रवार को संसद में उपस्थित रहने को कहा है। भाजपा संसदीय दल की बैठक गुरुवार को सुबह 9:30 बजे होगी।
गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता वाले अंतर-मंत्रालयी समूह ने विधेयक तैयार किया है। विधेयक में एक ही बार में तीन तलाक या तलाक-ए-बिद्दत चाहे बोलकर, लिखित में, ईमेल, एसएमएस या वाट्सएप से कहने को गैरकानूनी और अमान्य बनाया गया है। ऐसा करने वाले पति के लिए तीन साल जेल का प्रावधान किया गया है। इस महीने के शुरू में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने इस विधेयक को मंजूरी दी थी। विधेयक को पेश करने के लिए पिछले सप्ताह सूचीबद्ध किया गया था। विधेयक के प्रावधान के अनुसार, पति को जुर्माना भी किया जा सकता है। जुर्माना कितना होगा इसका फैसला मामले की सुनवाई करने वाले दंडाधिकारी करेंगे। सुप्रीम कोर्ट द्वारा तलाक-ए-बिद्दत को अमान्य कर दिए जाने के बाद भी यह प्रथा नहीं रुकी है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए विधेयक लाया जा रहा है।

9 महीने बचे विधानसभा चुनाव के लिए 300 दिन का कैलेंडर जारी

विधानसभा चुनाव के लिए लगभग 9 महीने बचे हैं। निर्वाचन आयोग ने आने वाले इन चुनाव को देखते हुए अब से लेकर चुनाव खत्म होने तक की रूपरेखा तैयार की है। इसके अनुसार 300 दिन का कैलेंडर जारी किया है। चुनाव खत्म होने तक प्रत्येक दिन कैलेंडर के हिसाब से काम करने के निर्देश जिले के निर्वाचन अधिकारियों को दिए हैं।
निर्वाचन अधिकारी जितेंद्र चौहान ने बताया कि कैलेंडर के अनुसार कार्य की शुरुआत हो चुकी है। आगे की रूपरेखा तैयार करना है और निर्वाचन की सभी जिम्मेदारियां भी दिन के अनुसार तय की जाएगी। इस कैलेंडर में चुनाव तक रोजाना के कार्यों की जिम्मेदारी अलग-अलग बंटी है, जिसके अंतर्गत वोटर लिस्ट अपडेट करना, नए नाम जुड़वाना।
जो नाम जुड़ चुके हैं वे सही हैं या नहीं उसकी जानकारी एकत्रित करना, सभी बूथ लेवल पर जाकर जांच करना, अधिकारियों की जिम्मेदारी निश्चित करना, मतदान जागरुकता अभियान, चुनावी व्यवस्थाएं व अन्य चुनाव के पहले के कई कामों की लिस्ट इस तैयार की गई है।

भारतीय सेना ने सोमवार को पाकिस्‍तानी सेना के तीन जवानों को ढेर कर दिया

भारतीय सेना ने सोमवार को पाकिस्‍तानी सेना के तीन जवानों को ढेर कर दिया। भारतीय सेना द्वारा नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार कर पाकिस्तानी सेना के तीन सैनिकों को मौत के घाट उतारने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि सेना ने शनिवार को सीजफायर का उल्लंघन कर पाकिस्तानी सेना द्वारा की गई गोलीबारी में मारे गए चार भारतीय जवानों की मौत का बदला लिया है।
इंटेलीजेंस सूत्रों के हवाले से एएनआई ने खबर दी है कि भारतीय सेना के जवानों ने नियंत्रण रेखा को पार कर पाकिस्तानी सेना के तीन जवानों को मौत के घाट उतार दिया। भारतीय सेना की इस जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान का एक जवान घायल भी हुआ है। इससे पहले भारतीय जवानों ने जम्मू-कश्मीर के झांगर सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास एक पाकिस्तानी स्नाइपर को ढेर किया था। जानें पहली और दूसरी सर्जिकल स्ट्राइक की खास बातें…
– 23 दिसंबर को जम्मू एंड कश्मीर के राजौरी जिले में पाकिस्तानी आर्मी ने सीजफायर का उल्लंघन करते हुए चार भारतीय सैनिकों की हत्या कर दी थी, जिनमें एक मेजर भी शामिल थे। दो ही दिन के अंदर इसका बदला लेते हुए सेना ने पाकिस्तान के तीन जवानों को मार गिराया

मजेंटा लाइन के लिए भी स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने बड़ा योगदान

सभी देशी मेट्रो परियोजनाओं की भांति दिल्ली मेट्रो की मजेंटा लाइन के लिए भी स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने बड़ा योगदान किया है। इस परियोजना के लिए सेल ने 55000 टन स्टील की आपूर्ति की है। इसके तहत सेल ने टीएमटी, स्ट्रक्चरल और प्लेट की आपूर्ति की।
सेल के एक बयान के मुताबिक इससे पहले कंपनी मिजोरम की तुइरियल हाइड्रो इलेक्ट्रिक परियोजना, गुजरात के सरदार सरोवर बांध और असम में बने देश के सबसे लंबे पुल ढोला सदिया परियोजना में भी स्टील की सप्लाई करके योगदान कर चुकी है।
भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (भेल) ने कड़ी अंतरराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा के बीच मेनलाइन ईएमयू ट्रेन के 146 सेट का ठेका प्राप्त करने में सफलता प्राप्त की है। भेल को 672 करोड़ रुपये का यह ठेका रेल कोच फैक्टरी कपूरथला से मिला है। कंपनी इन अत्याधुनिक ट्रेनो का डिजाइन व निर्माण अपने बेंगलुरु, भोपाल और झांसी के कारखानों में करेगी।

इस क्रिसमस बच्चों की खुशियों को दुगुना कीजिये ‘हैमलीज़’ के साथ

भोपाल। क्रिसमस का उत्साह हवाओं के साथ चारों फैल गया है और इस अनूठे त्यौहार को जोरो शोर से मनाया जा रहा है। ऐसे में लंदन की सबसे प्रतिष्ठित और
पुरानी खिलौनों की दुकान ‘हैमलीज़’ पर अपने पसंदीदा कैरेक्टर के साथ त्यौहार की इन खुशियों को बाँटने से बेहतर और क्या हो सकता है। पिछले 250 सालों से
निरंतर दुनिया भर में पूरे परिवार के लिए आनंद और मनोरंजन देने वाले खिलौने बनाने के लिए प्रसिद्द यह टॉय स्टोर, भोपाल स्थित अपने स्टोर में अद्भुत और
शानदार खिलौनों की पेशकश करते हुए उत्साहित महसूस कर रहा है। साथ ही त्यौहार की खुशियों में और इजाफा करते हुए यहाँ खिलौनों की खासकर फेस्टिव
सीज़न में लाइव डेमो और आकर्षक एक्सक्लूज़िव गतिविधियों की मौजूदगी, पूरे परिवार की प्रसन्नता को कई गुना बढ़ा देती है।

क्रिसमस के दौरान पूरे वीकेंड पर स्टोर में उत्सव का माहौल रंग जमा रहा है। जिसके अंतर्गत विशेष कलाकार आपके नन्हे प्रिंस और प्रिंसेस को टैटू पेंटिंग और
लेटर राइटिंग जैसी गतिविधियों में शामिल करेंगे। इसके साथ ही हैमलीज़ ने सबके प्यारे-दुलारे मैस्कॉट-‘हैमलीज़ बेयर/बियर’ की विजिट को भी आयोजित किया है।
इस त्यौहार को और भी स्पेशल बनाने के लिए खुद सैंटा क्लॉज़ बच्चों के लिए गिफ्ट लेकर स्टोर में आएंगे।

क्रिसमस को और भी जादूभरा बनाने के लिए हैमलीज़ हर बच्चे को अपनी ‘लेटर्स टू सैंटा’ प्रतियोगिता के जरिये सैंटा क्लॉज़ की पर्सनल विजिट जीतने का सुनहरा
अवसर भी प्रदान करेगा। इस खूबसूरत अवसर का इंतज़ार हर परिवार साल भर करता है। पैरेंट्स इस अवसर पर विशेष प्रसन्नता अनुभव करते हैं जब उनके बच्चे
खो चुकी ‘पत्र लेखन’ (लेटर राइटिंग) की कला का उपयोग साल भर उनके द्वारा किये गए अच्छे कामों और मनचाही गिफ्ट्स के बारे में सैंटा को पत्र (लैटर)
लिखकर करते हैं। वहीं बच्चों के लिए यह पूरी तरह आनंद का मामला होता है क्योंकि इसके जरिये उन्हें सैंटा क्लॉज़ से अपने घर पर और अपनी मनचाहे तोहफे
के साथ मिलने का मौका मिलता है, यह एक ऐसी याद होती है जिसे कोई भी हमेशा के लिए संजोकर रख लेना चाहता है।

हैमलीज़ ने इस साल इस पूरी प्रक्रिया को बच्चों के लिए और भी आसान बना दिया है क्योंकि सैंटा अब ‘टेक सेवी’ हो चुके हैं. अब क्रिसमस के लिए डिजिटल
लैटर्स के जरिये सैंटा की खुद की वेबसाइट पर आसानी से पहुंचा जा सकता है। चुने गए बेस्ट लेटर्स के लिये सैंटा क्लॉज़ की स्पेशल होम विजिट का सरप्राइज़
मिलेगा। साथ ही विजेता बच्चे की विश लिस्ट के खिलौने भी उसे घर जाकर दिए जायेंगे। इस वर्ष ‘लैटर्स टू सैंटा’ प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए आपको किसी
भी हैमलीज़ स्टोर पर जाकर एक ट्रेडिशनल लैटर लिखना होगा और उसे स्टोर के भीतर मौजूद पोस्ट बॉक्स में डालना होगा या फिर
https://letterstosanta.in/ पर विजिट करके लैटर लिखना होगा। तो इस क्रिसमस् आईये ‘डी बी मॉल’ भोपाल स्थित ‘हैमलीज़ स्टोर’ और अपने परिवार के
साथ कीजिये क्रिसमस की खुशियों को दुगुना।

क्या भारतीय कप्तान विराट कोहली आने वाले वर्षों में बल्लेबाजी के सभी रिकॉर्ड तोड़ेंगे

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान वकार यूनुस ने कहा कि भारतीय कप्तान विराट कोहली आने वाले वर्षों में बल्लेबाजी के सभी रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं।
वकार ने कहा, ‘कोहली जिस तरह अपनी फिटनेस को बनाए रखते हैं और जिस एकाग्रता व कौशल के साथ खेल का लुत्फ उठाते हैं उससे मुझे लगता है कि आने वाले वर्षों में वह बल्लेबाजी के सभी रिकॉर्ड तोड़ देंगे।’ पिछले साल पाकिस्तान के मुख्य कोच पद से इस्तीफा देने वाले इस पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा कि कोहली समकालीन क्रिकेट के सर्वोच्च प्रतिभावान खिलाड़ी है।
अपने समय के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज के बारे में बात करते हुए वकार ने कहा कि पिछले एक दशक में क्रिकेट में काफी बदलाव आया है, लेकिन कोहली की फिटनेस के प्रति प्रतिबद्धता और बल्लेबाजी कौशल में सुधार को देखते हुए उन्हें उन्होंने शीर्ष पर रखा है। वकार ने कहा, ‘जिस तरह मैं उन्हें देख रहा हूं, वह बल्लेबाजी के बहुत सारे रिकॉर्ड अपने नाम करेंगे।’
क्रिकेट के दो महान बल्लेबाजों सचिन तेंडुलकर और ब्रायन लारा की तुलना पर पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने भारतीय खिलाड़ी को बेहतर बताया। उन्होंने कहा, ‘मैं तेंडुलकर के खिलाफ काफी खेला हूं। उन्होंने हमारे खिलाफ पदार्पण किया था। एक पेशेवर के तौर पर मैंने उन्हें कई वर्षों तक देखा है और मैंने वैसा प्रतिबद्ध खिलाड़ी नहीं देखा है। जिन बल्लेबाजों को मैंने गेंदबाजी की है उनमें वह सर्वश्रेष्ठ थे और उनके खिलाफ खेलना चुनौतीपूर्ण होता है।’
उन्होंने कहा कि लारा नैर्सिगक प्रतिभावान खिलाड़ी थे और जब उनका दिन होता था तो वह काफी खतरनाक होते थे। वकार ने कहा कि कप्तान और कोच के तौर पर अपने कार्यकाल के दौरान उन्होंने कभी अनुशासन पर समझौता नहीं किया। उन्होंने कहा, ‘मैं हमेशा मानता हूं कि क्रिकेट में जब तब आप अनुशासित नहीं होंगे, आपकी प्रतिभा टीम के लिए किसी काम की नहीं।’

ट्रेन में एक महिला ने पश्चिम बंगाल के पुरुलिया स्टेशन पर दिया बच्चे को जन्म

ट्रेन में सफर कर रही एक महिला ने पश्चिम बंगाल के पुरुलिया स्टेशन पर एक बच्चे को जन्म दिया। इस खबर से खुश होकर नवजात के दादा ने उसका नाम जनसंघ को खड़ा करने वाले पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर ‘दीनदयाल’ रख दिया।
आपको ये जानकार हैरानी होगी कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जन्म भी रेलवे स्टेशन पर ही हुआ था। इस ट्रेन से केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल भी सफर कर रहे थे। जैसे ही उन्हें इस बात का पता चला, वो परिवार के पास पहुंचे और उन्हें बधाई दी। मां और शिशु दोनों फिलहाल स्वस्थ हैं।